Home / देखी सुनी / राज्यपाल की सलाह से खड़े हुये सवाल, क्या अनूप मिश्रा छोड़ेंगे बीजेपी ?

राज्यपाल की सलाह से खड़े हुये सवाल, क्या अनूप मिश्रा छोड़ेंगे बीजेपी ?

गुरूवार को भाजपाई दिग्गज अनूप मिश्रा के बीजेपी छोड़ने की खबरों ने काफी हलचल बढ़ा दी। कहा जा रहा है कि अनूप जल्द ही बीजेपी का दामन छोड़ कांग्रेस में शामिल हो सकते है। अकेले अनूप ही नहीं बीजेपी के कई अन्य बड़े नेता भी पार्टी छोड़ने का मन बना चुके है। इनमे विधायक और पूर्व मंत्री जैसे नेता शुमार है। ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों के बढ़ते दखल से अनूप मिश्रा समेत अन्य बड़े नेता नाराज है। अनूप के आज राज्यपाल से मिलने की खबर और फिर राज्यपाल द्वारा उन्हें बीजेपी न छोड़ने की सलाह देने के बाद राजनीति…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

गुरूवार को भाजपाई दिग्गज अनूप मिश्रा के बीजेपी छोड़ने की खबरों ने काफी हलचल बढ़ा दी। कहा जा रहा है कि अनूप जल्द ही बीजेपी का दामन छोड़ कांग्रेस में शामिल हो सकते है। अकेले अनूप ही नहीं बीजेपी के कई अन्य बड़े नेता भी पार्टी छोड़ने का मन बना चुके है। इनमे विधायक और पूर्व मंत्री जैसे नेता शुमार है।
ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों के बढ़ते दखल से अनूप मिश्रा समेत अन्य बड़े नेता नाराज है। अनूप के आज राज्यपाल से मिलने की खबर और फिर राज्यपाल द्वारा उन्हें बीजेपी न छोड़ने की सलाह देने के बाद राजनीति गर्म हो गई है। कांग्रेस ने पलटवार करते हुये राज्यपाल को अपने संवैधानिक पद की मर्यादा के धर्म का पालन करने का पाठ पढ़ाया है और कहा है कि राज्यपाल को राजनैतिक कामों पर सलाह और प्रतिक्रिया नहीं देना चाहिए। इधर अनूप के बीजेपी छोड़ने की अटकलों के बाद वह चुप्प है और कोई बड़ा धमाका जल्द कर सकते है। सूत्रों की माने तो कांग्रेस से वह ग्वालियर पूर्व से बागी और बीजेपी नेता मुन्नालाल गोयल के खिलाफ चुनाव लड़ सकते है।

गुरूवार को भाजपाई दिग्गज अनूप मिश्रा के बीजेपी छोड़ने की खबरों ने काफी हलचल बढ़ा दी। कहा जा रहा है कि अनूप जल्द ही बीजेपी का दामन छोड़ कांग्रेस में शामिल हो सकते है। अकेले अनूप ही नहीं बीजेपी के कई अन्य बड़े नेता भी पार्टी छोड़ने का मन बना चुके है। इनमे विधायक और पूर्व मंत्री जैसे नेता शुमार है। ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थकों के बढ़ते दखल से अनूप मिश्रा समेत अन्य बड़े नेता नाराज है। अनूप के आज राज्यपाल से मिलने की खबर और फिर राज्यपाल द्वारा उन्हें बीजेपी न छोड़ने की सलाह देने के बाद राजनीति…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

तोमर खेमा अलग थलग पड़ा, अब सिंधिया और उनके समर्थकों का वर्चस्व

मध्यप्रदेश और अंचल की राजनीति में जिस प्रकार से केन्द्र और सूबे ...