Home / प्रदेश / मप्र छत्तीसगढ़ / डीजीपी वीके सिंह को हटाए जाने की अटकलों के बीच गरमाई सियासत

डीजीपी वीके सिंह को हटाए जाने की अटकलों के बीच गरमाई सियासत

भोपाल। डीजीपी वीके सिंह को हटाए जाने की अटकलों के बीच प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है. इस विवाद को लेकर जहां एक तरफ एक सीनियर आईपीएस अफसर ने सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया है, तो वहीं सत्तापक्ष और विपक्ष एक दूसरे पर आरोप- प्रत्यारोप लगाते नजर आ रहे हैं. बीजेपी नेताओं का कहना है कि, 'एक ईमानदार डीजीपी जो नियम और कानून के हिसाब से विभाग की सुचारू व्यवस्था चला रहे थे. साथ ही साथ मध्य प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति के लिए बेहतर काम कर रहे थे, उन्हें हटाया जा रहा है, क्योंकि वो सरकार…

Review Overview

User Rating: 4.9 ( 1 votes)

भोपाल। डीजीपी वीके सिंह को हटाए जाने की अटकलों के बीच प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है. इस विवाद को लेकर जहां एक तरफ एक सीनियर आईपीएस अफसर ने सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया है, तो वहीं सत्तापक्ष और विपक्ष एक दूसरे पर आरोप- प्रत्यारोप लगाते नजर आ रहे हैं.

बीजेपी नेताओं का कहना है कि, ‘एक ईमानदार डीजीपी जो नियम और कानून के हिसाब से विभाग की सुचारू व्यवस्था चला रहे थे. साथ ही साथ मध्य प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति के लिए बेहतर काम कर रहे थे, उन्हें हटाया जा रहा है, क्योंकि वो सरकार की मनमर्जी के हिसाब से काम नहीं कर रहे थे’. कांग्रेस का कहना है कि, ‘यह प्रशासनिक काम है. इसमें कोई विवाद की स्थिति है ही नहीं, कांग्रेस ने बीजेपी पर प्रदेश में अव्यवस्था फैलाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है, तो वहीं सीनियर आईपीएस अफसर मैथिलीशरण गुप्त की सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट से पुलिस महकमे और राजनीतिक गलियारों में भी हड़कंप मचा हुआ है.

राजगढ़ कलेक्टर थप्पड़ कांड, धार मॉब लिंचिंग और हनी ट्रैप जैसे गंभीर मामलों को लेकर डीजीपी वीके सिंह को पद से हटाने की तैयारी की जा रही है. बताया जा रहा है कि, वीके सिंह से मुख्यमंत्री कमलनाथ भी खासे नाराज चल रहे हैं. यही वजह है कि वीके सिंह को हटाकर आईपीएस अफसर राजेंद्र कुमार को डीजीपी बनाए जाने की बातें सामने आ रही हैं.

भोपाल। डीजीपी वीके सिंह को हटाए जाने की अटकलों के बीच प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है. इस विवाद को लेकर जहां एक तरफ एक सीनियर आईपीएस अफसर ने सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया है, तो वहीं सत्तापक्ष और विपक्ष एक दूसरे पर आरोप- प्रत्यारोप लगाते नजर आ रहे हैं. बीजेपी नेताओं का कहना है कि, 'एक ईमानदार डीजीपी जो नियम और कानून के हिसाब से विभाग की सुचारू व्यवस्था चला रहे थे. साथ ही साथ मध्य प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति के लिए बेहतर काम कर रहे थे, उन्हें हटाया जा रहा है, क्योंकि वो सरकार…

Review Overview

User Rating: 4.9 ( 1 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

मध्यप्रदेश में कोरोना से एक दिन में 5 मौतें: गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे कक्षा 1 से 10वीं तक के बच्चे

मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए गणतंत्र दिवस पर ...