Home / देखी सुनी / बीजेपी जिलाध्यक्ष पर नेताओं में अंर्तकलह, टली घोषणा

बीजेपी जिलाध्यक्ष पर नेताओं में अंर्तकलह, टली घोषणा

ग्वालियर बीजेपी जिलाध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया अब तक पूरी हो जाना चाहिए थी, परंतु नेताओं की गुटबाजी और अंर्तकलह इतनी ज्यादा है कि किसी भी नाम पर एका नहीं हो रहा है। सभी गुटों के नेता अब पटठे को इस कुर्सी पर बैठाना चाहते है। जिससे वह जैसे चाहे वैसे ग्वालियर में पार्टी को चला सकें। केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से लेकर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया, सांसद विवेक शेजवलकर में इस पद को लेकर शीतयुद्ध चल रहा है। चारों ही नेता अपनी अपनी गोटी इस सीट के लिए फिट करने में लगे हुये…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

ग्वालियर बीजेपी जिलाध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया अब तक पूरी हो जाना चाहिए थी, परंतु नेताओं की गुटबाजी और अंर्तकलह इतनी ज्यादा है कि किसी भी नाम पर एका नहीं हो रहा है। सभी गुटों के नेता अब पटठे को इस कुर्सी पर बैठाना चाहते है। जिससे वह जैसे चाहे वैसे ग्वालियर में पार्टी को चला सकें।


केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से लेकर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया, सांसद विवेक शेजवलकर में इस पद को लेकर शीतयुद्ध चल रहा है। चारों ही नेता अपनी अपनी गोटी इस सीट के लिए फिट करने में लगे हुये है। हालांकि वजन केन्द्रीय मंत्री जी का ज्यादा लग रहा है। हो सकता है पार्टी हाईकमान उनकी पसंद को तबज्जों को दे दें या फिर संघ की पसंद को सर्वमान्य मानकर सभी नामों को विवादित बताकर कोई नया पत्ता जिलाध्यक्ष की कुर्सी पर बिठा दिया जाये। संघ से भी पूर्व राज्यपाल के सुपुत्र की पैरवी की गई है। अब देखना यी है कि पार्टी ने ग्वालियर संभाग के सभी जिलों में अध्यक्षों की घोषणा भोपाल से कर दी है अब ग्वालियर के नाम का ऐलान कब होता है इसका इंतजार है।

ग्वालियर बीजेपी जिलाध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया अब तक पूरी हो जाना चाहिए थी, परंतु नेताओं की गुटबाजी और अंर्तकलह इतनी ज्यादा है कि किसी भी नाम पर एका नहीं हो रहा है। सभी गुटों के नेता अब पटठे को इस कुर्सी पर बैठाना चाहते है। जिससे वह जैसे चाहे वैसे ग्वालियर में पार्टी को चला सकें। केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से लेकर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया, सांसद विवेक शेजवलकर में इस पद को लेकर शीतयुद्ध चल रहा है। चारों ही नेता अपनी अपनी गोटी इस सीट के लिए फिट करने में लगे हुये…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

सियासी गर्माहटः सिंधिया की बदली छवि से मूल भाजपाई बैचेन, विजयवर्गीय-पवैया से भी नजदीकियां

कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आने के बाद से केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ...