Home / ग्वालियर / विदेश से लौटे डॉ. प्रशांत लहारिया के बेटे को चमकी बुखार!

विदेश से लौटे डॉ. प्रशांत लहारिया के बेटे को चमकी बुखार!

ग्वालियर। शहर में चमकी बुखार के लक्षण से मिलते जुलते वायरस की दस्तक हुई है। इस वायरस का शिकार एक जाने माने चिकित्सक प्रशांत लहारिया का बेटा समर (18)बना है। पहले बुखार फिर अचानक बेहोश होने पर डॉ.लहारिया तत्काल समर को दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, जहां उसका इलाज चल रहा है। रिपोर्ट से पता चला कि इंसेफलाइटिस स्फोरेटिक नामक वायरस का अटैक हुआ है। जिसके लक्षण चमकी बुखार(एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम) से मिलते जुलते हैं। डॉ.लहारिया का कहना था कि इंसेफलाइटिस वायरस आईडेंटीफाई हुआ है। पर यह चमकी बुखार नहीं है। वहीं डॉ.दिनेश उदैनिया का कहना था कि समर…

Review Overview

User Rating: Be the first one !
ग्वालियर। शहर में चमकी बुखार के लक्षण से मिलते जुलते वायरस की दस्तक हुई है। इस वायरस का शिकार एक जाने माने चिकित्सक प्रशांत लहारिया का बेटा समर (18)बना है। पहले बुखार फिर अचानक बेहोश होने पर डॉ.लहारिया तत्काल समर को दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, जहां उसका इलाज चल रहा है। रिपोर्ट से पता चला कि इंसेफलाइटिस स्फोरेटिक नामक वायरस का अटैक हुआ है। जिसके लक्षण चमकी बुखार(एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम) से मिलते जुलते हैं। डॉ.लहारिया का कहना था कि इंसेफलाइटिस वायरस आईडेंटीफाई हुआ है। पर यह चमकी बुखार नहीं है। वहीं डॉ.दिनेश उदैनिया का कहना था कि समर पर जिस वायरस ने अटैक किया उसके केस शहर में अमूमन मिलते रहते हैं। इस बीमारी को चमकी बुखार से जोड़कर नहीं देखा जा सकता।

3 दिन बुखार, चौथे दिन बेहोशी

समर को तीन दिन से बुखार आ रहा था। रविवार की रात करीब साढ़े 9 बजे अचानक खाने की टेबल पर वह बेहोश हो गया। उसे तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद एमआरआई के लिए अपोलो अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां पर जांचें हुईं और सोमवार की सुबह 1 जून को दिल्ली के मैक्स अस्पताल ले जाकर भर्ती करा दिया। जहां पर उसकी तबियत में सुधार बताया गया है। जांच में पता चला कि दिमाग पर इंसेफलाइटिस नामक वायरस का अटैक हुआ है।

पिछले माह ही लौटे हैं विदेश से

डॉ.प्रशांत लहारिया का कहना है कि जून के प्रथम सप्ताह में ही साउथ अफ्रीका से लौटे हैं। विदेश से लौटने पर इस तरह के कोई लक्षण उन्हें नजर नहीं आए। पर अचानक गुरुवार-शुक्रवार को समर को बुखार आने लगा। तो पहले सामान्य ही समझा पर रविवार को बेहोश होने पर सभी घबरा गए और उसे तत्काल दिल्ली लेकर पहुंचे। यह वायरस कहां से आया, कुछ कहा नहीं जा सकता। पर घर के नजदीक जयारोग्य अस्पताल में हर रोज हजारों मरीज पहुंचते हैं। अंदेशा जताया जा रहा है कि कोई मरीज इस वायरस से ग्रसित होगा। इस वायरस के लक्षण भी चमकी बुखार से मिलते जुलते हैं।
ग्वालियर। शहर में चमकी बुखार के लक्षण से मिलते जुलते वायरस की दस्तक हुई है। इस वायरस का शिकार एक जाने माने चिकित्सक प्रशांत लहारिया का बेटा समर (18)बना है। पहले बुखार फिर अचानक बेहोश होने पर डॉ.लहारिया तत्काल समर को दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, जहां उसका इलाज चल रहा है। रिपोर्ट से पता चला कि इंसेफलाइटिस स्फोरेटिक नामक वायरस का अटैक हुआ है। जिसके लक्षण चमकी बुखार(एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम) से मिलते जुलते हैं। डॉ.लहारिया का कहना था कि इंसेफलाइटिस वायरस आईडेंटीफाई हुआ है। पर यह चमकी बुखार नहीं है। वहीं डॉ.दिनेश उदैनिया का कहना था कि समर…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

कार्यपरिषद सदस्यः शिक्षा के मंदिर में शक्ति प्रदर्शन की क्या जरूरत?

ग्वालियर। जीवाजी विश्वविद्यालय में हाल ही में मनोनीत किये गये कार्यपरिषद सदस्य ...