Home / राजनीतिक / भाजपा: आधी रात तक चली मीटिंग, 85 नए नाम सहित 170 फाइनल

भाजपा: आधी रात तक चली मीटिंग, 85 नए नाम सहित 170 फाइनल

भोपाल। भारी शोर शराबे और वर्तमान विधायक व मंत्रियों के विरोध के बीच भाजपा की चुनाव समिति अब प्रत्याशियों के नाम फाइनल करने की प्रक्रिया पर आ गई है। बताया जा रहा है कि बीती रात देर तक मंथन चलता रहा और इसके बाद 170 नाम फाइनल कर दिए गए। इनमें से 85 नए नाम है। भाजपा इस बार नए चेहरों पर दांव खेलने के मूड में है ताकि प्रचार के समय कोई उनसे 15 साल का हिसाब ना पूछे। बताया जा रहा है कि भाजपा इस बार सोशल इंजीनियरिंग भी करने जा रही है। कुछ सीटों पर रिटायर्ड नौकरशाह…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

भोपाल। भारी शोर शराबे और वर्तमान विधायक व मंत्रियों के विरोध के बीच भाजपा की चुनाव समिति अब प्रत्याशियों के नाम फाइनल करने की प्रक्रिया पर आ गई है। बताया जा रहा है कि बीती रात देर तक मंथन चलता रहा और इसके बाद 170 नाम फाइनल कर दिए गए। इनमें से 85 नए नाम है। भाजपा इस बार नए चेहरों पर दांव खेलने के मूड में है ताकि प्रचार के समय कोई उनसे 15 साल का हिसाब ना पूछे।
बताया जा रहा है कि भाजपा इस बार सोशल इंजीनियरिंग भी करने जा रही है। कुछ सीटों पर रिटायर्ड नौकरशाह एवं सामाजिक क्षेत्रों में काम कर रहे अच्छी छवि वाले नेताओं को टिकट देने की तैयारी की गई है ताकि जनता को भरोसा दिलाया जा सके कि भाजपा आज भी अच्छे लोगों के साथ है। इस तरह भाजपा उन सभी लोगों को चुप कराने की कोशिश कर रही है जो कांग्रेसी नहीं हैं परंतु शिवराज सिंह सरकार की कलई खोलते रहते हैं।
बैठक में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, प्रदेश प्रभारी डा विनय सहस्त्रबुद्धे, चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा और कैलाश विजयवर्गीय शामिल रहे। बता दें कि भाजपा के लिए प्रदेश में 6 से अधिक सर्वे हुए हैं। इन सभी का डाटा एकजुट कर लिया गया है। रायशुमारी के नतीजे भी सामने आ गए हैं। अब बस गुटबाजी और वंशवाद मामले पर फैसला बाकी है।

भोपाल। भारी शोर शराबे और वर्तमान विधायक व मंत्रियों के विरोध के बीच भाजपा की चुनाव समिति अब प्रत्याशियों के नाम फाइनल करने की प्रक्रिया पर आ गई है। बताया जा रहा है कि बीती रात देर तक मंथन चलता रहा और इसके बाद 170 नाम फाइनल कर दिए गए। इनमें से 85 नए नाम है। भाजपा इस बार नए चेहरों पर दांव खेलने के मूड में है ताकि प्रचार के समय कोई उनसे 15 साल का हिसाब ना पूछे। बताया जा रहा है कि भाजपा इस बार सोशल इंजीनियरिंग भी करने जा रही है। कुछ सीटों पर रिटायर्ड नौकरशाह…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

कमलनाथ सरकार को घेरने सड़कों पर उतरेगा युवा मोर्चा

भोपाल। भारतीय जनता युवा मोर्चा मध्यप्रदेश कि आगामी आंदोलनात्मक कार्यक्रमों को लेकर ...