Home / अपराध / सिल्वर इस्टेट में डॉक्टर को गोली मारने वाला गिरफ्तार

सिल्वर इस्टेट में डॉक्टर को गोली मारने वाला गिरफ्तार

ग्वालियर में एक महीने पहले सिल्वर इस्टेट में डॉक्टर के घर में घुसकर उसे गोली मारने वाले तीन बदमाशों में से एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने बताया कि वारदात का मास्टर माइंड उसका एक रिश्तेदार है जो बिल्डिंग का पूर्व गार्ड है। नौकरी के समय ही उसे समझ आया गया था कि होम्योपैथी डॉक्टर के पास काफी पैसा है। यही कारण उसने अपने साथियों (चचेरे भाइयों) के साथ मिलकर लूट की प्लानिंग की थी। वह किसी शेखर सिकरवार से मिलने के बहाने एन्ट्री कर अंदर दाखिल हुए थे। पर सीधे डॉक्टर के घर के सामने…

Review Overview

User Rating: 4.35 ( 3 votes)

ग्वालियर में एक महीने पहले सिल्वर इस्टेट में डॉक्टर के घर में घुसकर उसे गोली मारने वाले तीन बदमाशों में से एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने बताया कि वारदात का मास्टर माइंड उसका एक रिश्तेदार है जो बिल्डिंग का पूर्व गार्ड है। नौकरी के समय ही उसे समझ आया गया था कि होम्योपैथी डॉक्टर के पास काफी पैसा है। यही कारण उसने अपने साथियों (चचेरे भाइयों) के साथ मिलकर लूट की प्लानिंग की थी। वह किसी शेखर सिकरवार से मिलने के बहाने एन्ट्री कर अंदर दाखिल हुए थे। पर सीधे डॉक्टर के घर के सामने पहुंचे। यही कारण था कि शुरू के कुछ दिन पुलिस यही उलझन में रहीं कि टारगेट डॉक्टर था या शेखर। फिलहाल पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है।
ग्वालियर पुलिस को सूचना मिली थी कि 1 नवंबर 2022 कि रात विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के सिल्वर इस्टेट में घुसकर फ्लैट नंबर 803 में रहने वाले होम्योपैथी डॉक्टर राजेश गुप्ता के घर में घुसकर सीधे उन पर हमला करने वाले बदमाशों में से एक को रामनगर मुरैना में देखा गया है। घटना के बाद बदमाशों के चेहरे CCTV कैमरे में भी कैद हुए थे। इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी कर मुरैना के रामनगर से CCTV फुटेज से मिलते जुलते चेहरे वाले युवक को हिरासत में लिया। शुरुआती पूछताछ में पकड़े गए युवक की पहचान कुलदीप परमार निवासी मुरैना के रूप में हुई। उसने बताया कि उसने अपने मामा के लड़के विक्रम सिकरवार और देबू सिकरवार के साथ डॉक्टर के साथ लूट की प्लानिंग बनाई थी। जब वह डॉक्टर को लूटने में सफल नहीं हो पाए तो उसके मामा के लड़के विक्रम ने डॉक्टर को गोली मार दी थी। जिससे वह घायल हो गया था और हम तीनों फरार हो गए थे।
पकड़े गए आरोपी का कहना है कि उसके मामा का लड़का विक्रम पूर्व में ही सिल्वर स्टेट में गार्ड की नौकरी कर चुका है और हम तीनों लोगों को पैसे की बहुत जरूरत थी। मेरे भाई विक्रम को मालूम था कि डॉक्टर के पास बहुत पैसा है और हम उसे आसानी से लूट सकते हैं। इसकी विक्रम को पूरी जानकारी थी कि डॉक्टर के घर में कौन-कौन आता जाता है और कितने लोग घर में रहते हैं। उसके कहने पर ही हमने यह पूरी लूट की प्लानिंग बनाई थी। फिलहाल पुलिस ने पकड़े गए आरोपी के साथी विक्रम और उसके भाई देबू की जानकारी जुटाने के लिए पूछताछ शुरू कर दी है। विश्वविद्यालय थाना प्रभारी मनीष धाकड़ का कहना है कि 1 महीने पहले गोविंदपुरी के पास स्थित सिल्वर स्टेट में रहने वाले राजेश गुप्ता के साथ लूट का प्रयास और गोली मारकर डॉक्टर को घायल कर फरार हुए 3 बदमाशों में से एक बदमाश को पकड़ लिया है। फिलहाल पकड़े गए बदमाश के खिलाफ मामला दर्ज कर उसके दोनों साथियों की बारे में पूछताछ की जा रही है।

ग्वालियर में एक महीने पहले सिल्वर इस्टेट में डॉक्टर के घर में घुसकर उसे गोली मारने वाले तीन बदमाशों में से एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने बताया कि वारदात का मास्टर माइंड उसका एक रिश्तेदार है जो बिल्डिंग का पूर्व गार्ड है। नौकरी के समय ही उसे समझ आया गया था कि होम्योपैथी डॉक्टर के पास काफी पैसा है। यही कारण उसने अपने साथियों (चचेरे भाइयों) के साथ मिलकर लूट की प्लानिंग की थी। वह किसी शेखर सिकरवार से मिलने के बहाने एन्ट्री कर अंदर दाखिल हुए थे। पर सीधे डॉक्टर के घर के सामने…

Review Overview

User Rating: 4.35 ( 3 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ग्वालियर में पिता ने डांटा तो युवक ने खुद को गोली मारी, मौत

ग्वालियर । मुरार आर्य नगर में 20 वर्षीय आशु उर्फ अजय गुर्जर ...