Home / प्रदेश / मप्र छत्तीसगढ़ / ‘राष्ट्रपति’ शब्द को जेंडर न्यूट्रल घोषित किया जाए, कांग्रेस के नेता ने उठाई मांग

‘राष्ट्रपति’ शब्द को जेंडर न्यूट्रल घोषित किया जाए, कांग्रेस के नेता ने उठाई मांग

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लेकर की गई टिप्पणी के बाद सियासी माहौल गरमाया हुआ है. सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्षी दल इस मामले में आमने-सामने हैं, इस बीच कांग्रेस नेता और भिंड से लोकसभा का चुनाव लड़ चुके देवाशीष जरारिया ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक खत लिखकर राष्ट्रपति शब्द को 'लैंगिक तटस्थ' अर्थात जेंडर न्यूट्रल घोषित करने की मांग की है. कांग्रेस नेता देवाशीष जरारिया द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि "आपके देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति और पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनने…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लेकर की गई टिप्पणी के बाद सियासी माहौल गरमाया हुआ है. सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्षी दल इस मामले में आमने-सामने हैं, इस बीच कांग्रेस नेता और भिंड से लोकसभा का चुनाव लड़ चुके देवाशीष जरारिया ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक खत लिखकर राष्ट्रपति शब्द को ‘लैंगिक तटस्थ’ अर्थात जेंडर न्यूट्रल घोषित करने की मांग की है.
कांग्रेस नेता देवाशीष जरारिया द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि “आपके देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति और पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनने से पूरा देश गौरवान्वित है, आपका कार्यकाल भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में मील का पत्थर साबित होगा और करोड़ों दलितों, आदिवासियों महिलाओं, गरीबों के लिए प्रेरणा बनेगा, आपके राष्ट्रपति बनने से सत्तापक्ष के साथ विपक्ष भी अभिभूत है “. उन्होंने आगे लिखा है कि-” भारत बहुभाषी देश है, संसद में ऐसे अनेक सांसद हैं, जिनकी हिंदी अच्छी नहीं है या उन्हें आती नहीं है. अधीर रंजन चौधरी पश्चिम बंगाल से आते हैं, उनकी हिंदी भाषा पर पकड़ इतनी मजबूत भी नहीं है, एक गैर-हिंदी भाषी के व्याकरण त्रुटि को आपके अनादर से जोड़ना उन करोड़ों भारतीयों के लिए अपमानजनक है, जिनकी प्रथम भाषा या मातृभाषा हिंदी नहीं है.
कांग्रेस नेता जरारिया ने आरोप लगाया है कि देश में मौजूदा हालात में महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दे हैं जिन से ध्यान हटाकर व्याकरण त्रुटि पर ले जाया जा रहा है, इसलिए इस विषय को समाप्त करने के लिए जरूरी है कि राष्ट्रपति शब्द को लैंगिक तटस्थ अर्थात जेंडर न्यूट्रल करने की जरूरत है. उन्होंने आगे लिखा है कि पूरे विश्व में ऐसे उदाहरण हैं, जब कोई पद लैंगिकता प्रदर्शित कर रहा हो तो उसे लैंगिक तटस्थ शब्द से बदल दिया गया है. उदाहरण के लिए अंग्रेजी में चेयरमैन शब्द के स्थान पर चेयरपर्सन का इस्तेमाल किया जाने लगा है, बैट्समैन के स्थान पर बैटर शब्द का इस्तेमाल किया जा रहा है. आप के पद पर आसीन होने के बाद अनेक भारतीय महिलाएं देश के सर्वोच्च पद पर आसीन होंगी, इस बेवजह के विवाद को हमेशा के लिए समाप्त करने के लिए आप स्वयं आगे आएं और राष्ट्रपति पद को किसी लैंगिक शब्द में बदल दें.

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लेकर की गई टिप्पणी के बाद सियासी माहौल गरमाया हुआ है. सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्षी दल इस मामले में आमने-सामने हैं, इस बीच कांग्रेस नेता और भिंड से लोकसभा का चुनाव लड़ चुके देवाशीष जरारिया ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक खत लिखकर राष्ट्रपति शब्द को 'लैंगिक तटस्थ' अर्थात जेंडर न्यूट्रल घोषित करने की मांग की है. कांग्रेस नेता देवाशीष जरारिया द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि "आपके देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति और पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनने…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

कांग्रेस अध्यक्ष के लिए कल पर्चा भरेंगे दिग्विजय, दिल्ली में जाकर लिया नामांकन फॉर्म

कांग्रेस अध्यक्ष और राजस्थान CM विवाद के बीच MP के पूर्व CM ...