Home / प्रदेश / मप्र छत्तीसगढ़ / CM शिवराज ने प्रदेश में आज से पेसा कानून लागू करने की घोषणा की

CM शिवराज ने प्रदेश में आज से पेसा कानून लागू करने की घोषणा की

जननायक टंट्या मामा स्मृति समारोह का मुख्य कार्यक्रम शनिवार को इंदौर के नेहरू स्टेडियम में हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगू भाई पटेल इंदौर आए । इंदौर में मंच पर आदिवासी गीत पर सीएम खूब थिरके। मंच पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, उषा ठाकुर, मीना सिंह, अतर सिंह आर्य, तुलसी सिलावट, राज्यसभा सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, मंत्री विजय शाह, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा मौजूद हैं। राज्यपाल ने क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या भील स्मारक स्थल पातालपानी का वर्चुअल लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रशासनिक संकुल का अनावरण किया। इंदौर में सीएम शिवराज सिंह बोले कि कांग्रेस ने…

Review Overview

User Rating: 4.48 ( 5 votes)

जननायक टंट्या मामा स्मृति समारोह का मुख्य कार्यक्रम शनिवार को इंदौर के नेहरू स्टेडियम में हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगू भाई पटेल इंदौर आए । इंदौर में मंच पर आदिवासी गीत पर सीएम खूब थिरके। मंच पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, उषा ठाकुर, मीना सिंह, अतर सिंह आर्य, तुलसी सिलावट, राज्यसभा सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, मंत्री विजय शाह, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा मौजूद हैं। राज्यपाल ने क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या भील स्मारक स्थल पातालपानी का वर्चुअल लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रशासनिक संकुल का अनावरण किया।

इंदौर में सीएम शिवराज सिंह बोले कि कांग्रेस ने टंट्या मामा को भुला दिया। कांग्रेस अपने 50 साल के कार्यकाल में आदिवासी मंत्रालय भी नहीं दे सकी। यह काम अटल जी की सरकार में हुआ। उन्होंने मंच से पेसा कानून लागू करने की घोषणा की। पेसा एक्ट लागू होने के बाद अब स्थानीय संसाधनों पर जनजातीय समाज की पंचायतों को ज्यादा अधिकार मिल जाएंगे। इनमें जमीन, खनिज संपदा, लघु वनोपज की सुरक्षा और संरक्षण का अधिकार भी शामिल है। साथ ही ग्राम सभाओं को जनजातीय समाज की सामाजिक न्याय और धार्मिक व्यवस्था के लिए भी काम करने का अधिकार मिल सकेगा। इससे पहले स्मृति कार्यक्रम के तहत पातालपानी में दोपहर 12 बजे राज्यपाल मंगू भाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुंचे। यहां उन्होंने टंट्या मामा की कांस्य प्रतिमा का अनावरण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जननायक टंट्या मामा की स्मृति में हर साल 4 दिसंबर को पातालपानी में मेला लगेगा। क्षेत्र का विकास किया जाएगा। उनकी स्मृतियों को संजोया जाएगा, जिससे देश को उनके व्यक्तित्व और बलिदान से प्रेरणा मिल सके। जननायक टंट्या मामा की स्मृति में 4 करोड़ 55 लाख की लागत से पातालपानी में नवतीर्थ स्थल बनाया जाएगा।

इंदौर का भंवरकुआं चौराहा अब जननायक टंट्या मामा

पातालपानी में कार्यक्रम के बाद सीएम और राज्यपाल इंदौर के लिए रवाना हुए। यहां सभा-प्रदर्शनी के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। इंदौर में भंवरकुआं चौराहे का नाम बदलकर जननायक टंट्या भील किया गया। जननायक टंट्या भील के परिजन और BJP नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे भी मौजूद रहे। अब से यह चौराहा जन नायक टंट्या भील के नाम से जाना जाएगा

जननायक टंट्या मामा स्मृति समारोह का मुख्य कार्यक्रम शनिवार को इंदौर के नेहरू स्टेडियम में हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल मंगू भाई पटेल इंदौर आए । इंदौर में मंच पर आदिवासी गीत पर सीएम खूब थिरके। मंच पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, उषा ठाकुर, मीना सिंह, अतर सिंह आर्य, तुलसी सिलावट, राज्यसभा सांसद सुमेर सिंह सोलंकी, मंत्री विजय शाह, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा मौजूद हैं। राज्यपाल ने क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या भील स्मारक स्थल पातालपानी का वर्चुअल लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रशासनिक संकुल का अनावरण किया। इंदौर में सीएम शिवराज सिंह बोले कि कांग्रेस ने…

Review Overview

User Rating: 4.48 ( 5 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

मध्यप्रदेश में कोरोना से एक दिन में 5 मौतें: गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे कक्षा 1 से 10वीं तक के बच्चे

मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए गणतंत्र दिवस पर ...