Home / ग्वालियर / ग्वालियर में भारत बंद का व्यापक असर, प्रदर्शनकारियों पर वाटर कैनन की बौछार, केंद्रीय मंत्री तोमर के बंगले के बाहर प्रदर्शन

ग्वालियर में भारत बंद का व्यापक असर, प्रदर्शनकारियों पर वाटर कैनन की बौछार, केंद्रीय मंत्री तोमर के बंगले के बाहर प्रदर्शन

ग्वालियर। भारत बंद का ग्वालियर में व्यापक असर देखा गया. शहर में ज्यादातर बाजार बंद रहे. इस दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर के बंगले के बाहर प्रदर्शन किया. उन्होंने केंद्रीय मंत्री के खिलाफ नारेबाजी की और किसान विरोधी कानून को वापस लेने जाने की मांग की. नए कृषि कानून के विरोध में दिल्ली में किसान आंदोलन कर रहे हैं. किसानों ने अपनी मांगों के लिए 8 दिसंबर यानि आज के लिए भारत बंद का आह्वान किया था. इसके समर्थन में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के…

Review Overview

User Rating: 4.66 ( 4 votes)

ग्वालियर। भारत बंद का ग्वालियर में व्यापक असर देखा गया. शहर में ज्यादातर बाजार बंद रहे. इस दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर के बंगले के बाहर प्रदर्शन किया. उन्होंने केंद्रीय मंत्री के खिलाफ नारेबाजी की और किसान विरोधी कानून को वापस लेने जाने की मांग की.
नए कृषि कानून के विरोध में दिल्ली में किसान आंदोलन कर रहे हैं. किसानों ने अपनी मांगों के लिए 8 दिसंबर यानि आज के लिए भारत बंद का आह्वान किया था. इसके समर्थन में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के बंगले का घेराव किया. कार्यकर्ताओं ने उनके बंगले के बाहर धरना दिआ और जमकर नारेबाजी की. इस बात की जानकारी मिलते ही आनन-फानन में आला अफसर रेस कोर्स रोड स्थित तोमर के बंगले के पास पहुंचे. और प्रदर्शन बंद कराया. इस दौरान पुलिस अधिकारियों ने करीब 18 से ज्यादा प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.
आम आदमी पार्टी के नेता अमित शर्मा ने कहा कि यह बिल किसान विरोधी है. इससे कॉरपोरेट जगत मजबूत होगा और आम आदमी उसमें पिसेगा. आप के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मंत्री के बंगले के बाहर पहुंचे थे. प्रशासनिक अधिकारियों को जैसे ही जानकारी मिली, तो वे भी मौके पर पहुंचे गए और उन्होंने बिना अनुमति प्रदर्शन करने का आरोप लगाते हुए कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर जेल भेजा.

कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने जलाया केंद्र सरकार का पुतला

बंद के आह्वान पर कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों ने समर्थन देते हुए डबरा शहर में बाइक रैली निकाली और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता और किसान अग्रसेन चौराहे पर एकत्रित हुए. जहां केंद्र सरकार का पुतला दहन किया. इस दौरान प्रशासन ने किसानों और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के ऊपर पानी की बौछारें छोड़ी, और जलते हुए पुतले को भी बुझाया. किसानों ने इसे हिटलर शाही करार दिया है.
पानी की फुहारें देख किसानों और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में भगदड़ मच गई. सभी लोग तितर-बितर होते नजर आए, लेकिन बाद में फिर से आंदोलन की शुरुआत की गई. बड़ी संख्या में शहर भर में ट्रैक्टर- ट्रॉली से एकत्रित होकर किसान संगठनों ने अग्रसेन चौराहे पर बैठकर धरना दिया.हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने प्रशासन को निर्देश देते हुए कहा कि, किसानों के प्रदर्शन के दौरान किसी भी तरह से बल पूर्वक कार्रवाई नहीं होनी चाहिए. जबकि प्रशासन द्वारा पानी की बौछार और बल पूर्वक कार्रवाई की गई. किसानों ने इसे हिटलर शाही करार दिया है.
ग्वालियर। भारत बंद का ग्वालियर में व्यापक असर देखा गया. शहर में ज्यादातर बाजार बंद रहे. इस दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर के बंगले के बाहर प्रदर्शन किया. उन्होंने केंद्रीय मंत्री के खिलाफ नारेबाजी की और किसान विरोधी कानून को वापस लेने जाने की मांग की. नए कृषि कानून के विरोध में दिल्ली में किसान आंदोलन कर रहे हैं. किसानों ने अपनी मांगों के लिए 8 दिसंबर यानि आज के लिए भारत बंद का आह्वान किया था. इसके समर्थन में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के…

Review Overview

User Rating: 4.66 ( 4 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ग्वालियर में मिर्ची बाबा पर जानलेवा हमला, गाड़ी रोककर लाठी-डंडों से पीटा

ग्वालियर। चंबल अंचल में अब मिर्ची बाबा के लिए जगह सुरक्षित नहीं ...