Home / ग्वालियर / कुपोषण और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे तीन बच्चों का इलाज कराएंगे ग्वालियर कलेक्टर

कुपोषण और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे तीन बच्चों का इलाज कराएंगे ग्वालियर कलेक्टर

ग्वालियर। शहर और देहात भ्रमण के दौरान महिला बाल विकास के डीपीओ को तीन बच्चे ऐसे मिले हैं, जो कुपोषित होने के साथ-साथ गंभीर बीमारियों से भी जूझ रहे हैं. इनमें से एक बच्ची की आंख में कैंसर है, जबकि एक बच्ची के सिर के पीछे हिस्से में ट्यूमर है. खतरनाक बीमारियों के शिकार इन बच्चों के इलाज की जिम्मेदारी कलेक्टर ने ली है. दअरसल इनके इलाज की पूरी व्यवस्था करने के लिए कलेक्टर ने सीएमएचओ को पत्र लिखा है. इसके साथ ही दवाओं आदि पर होने वाला खर्च वो खुद उठाएंगे. पोषण सप्ताह में आंगनबाड़ी केंद्रों पर दर्ज अति…

Review Overview

User Rating: 4.78 ( 5 votes)

ग्वालियर। शहर और देहात भ्रमण के दौरान महिला बाल विकास के डीपीओ को तीन बच्चे ऐसे मिले हैं, जो कुपोषित होने के साथ-साथ गंभीर बीमारियों से भी जूझ रहे हैं. इनमें से एक बच्ची की आंख में कैंसर है, जबकि एक बच्ची के सिर के पीछे हिस्से में ट्यूमर है. खतरनाक बीमारियों के शिकार इन बच्चों के इलाज की जिम्मेदारी कलेक्टर ने ली है.
दअरसल इनके इलाज की पूरी व्यवस्था करने के लिए कलेक्टर ने सीएमएचओ को पत्र लिखा है. इसके साथ ही दवाओं आदि पर होने वाला खर्च वो खुद उठाएंगे. पोषण सप्ताह में आंगनबाड़ी केंद्रों पर दर्ज अति कुपोषित बच्चों के घरों पर जाकर जानकारी लेने के दौरान इनके बारे में पता चला था. पूरी जानकारी कलेक्टर को दी गई. अब कलेक्टर ने इन बच्चों का इलाज कराने की जिम्मेदारी ली है.
इन बच्चों का इलाज कराएंगे: नगर निगम के वार्ड एक क्षेत्र के इस्लामपुरा निवासी कादर खान के 1 वर्ष 7 माह के पुत्र अरशद खान की बाई आंख में कैंसर है, इस बच्चे का ऑपरेशन कराया जाएगा. वहीं किला गेट क्षेत्र में वार्ड 10 के सुनार गली निवासी कपिल प्रधान की 2 वर्ष 3 माह की बेटी आशी को सिर के पीछे हिस्से में ट्यूमर है, इस बच्ची का ऑपरेशन कराया जाएगा. इसके अलावा डबरा के कल्याणी गांव निवासी सायरा और समीर अली की 3 वर्षीय पुत्री यास्मीन पेट संबंधी विकार से पीड़ित है. यह बालिका कुछ खाती या पीती है तो तुरंत उल्टी कर देती है, इसका इलाज विशेष डॉक्टरों के द्वारा कराए जाएगा.

ग्वालियर। शहर और देहात भ्रमण के दौरान महिला बाल विकास के डीपीओ को तीन बच्चे ऐसे मिले हैं, जो कुपोषित होने के साथ-साथ गंभीर बीमारियों से भी जूझ रहे हैं. इनमें से एक बच्ची की आंख में कैंसर है, जबकि एक बच्ची के सिर के पीछे हिस्से में ट्यूमर है. खतरनाक बीमारियों के शिकार इन बच्चों के इलाज की जिम्मेदारी कलेक्टर ने ली है. दअरसल इनके इलाज की पूरी व्यवस्था करने के लिए कलेक्टर ने सीएमएचओ को पत्र लिखा है. इसके साथ ही दवाओं आदि पर होने वाला खर्च वो खुद उठाएंगे. पोषण सप्ताह में आंगनबाड़ी केंद्रों पर दर्ज अति…

Review Overview

User Rating: 4.78 ( 5 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

पुण्यतिथि पर राजमाता को नमन किया

ग्वालियर। कै. राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 20वीं पुण्यतिथि पर सोमवार को भाजपा ...