Home / देखी सुनी / जनता के मंत्री को जनता का आर्शीवाद

जनता के मंत्री को जनता का आर्शीवाद

ग्वालियर विधानसभा ही एकमात्र ऐसी सीट रही जो भाजपा के लिए सबसे सरल थी। यहां से मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर मैदान में थे। प्रद्युम्न के बारे में एक बात वायरल है कि वह जनता से सीधा जुड़ाव रखते है या फिर यूं कहे कि जनता के मंत्री को जनता का बंपर आर्शीवाद मिला। हालांकि उनके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने भी प्रचार किया था। परंतु प्रद्युम्न खुद ऐसी शख्सियत है कि वह अकेले ही आसानी से यह सीट निकाल लेते, क्योंकि उन्होंने खुद लोहा लेकर भाजपा के…

Review Overview

User Rating: 4.8 ( 1 votes)


ग्वालियर विधानसभा ही एकमात्र ऐसी सीट रही जो भाजपा के लिए सबसे सरल थी। यहां से मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर मैदान में थे। प्रद्युम्न के बारे में एक बात वायरल है कि वह जनता से सीधा जुड़ाव रखते है या फिर यूं कहे कि जनता के मंत्री को जनता का बंपर आर्शीवाद मिला। हालांकि उनके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने भी प्रचार किया था। परंतु प्रद्युम्न खुद ऐसी शख्सियत है कि वह अकेले ही आसानी से यह सीट निकाल लेते, क्योंकि उन्होंने खुद लोहा लेकर भाजपा के ही दिग्गज बजरंगी नेता जयभान सिंह पवैया को कांग्रेस में रहते समय दो बार करारी शिकस्त दी थी।

ग्वालियर विधानसभा ही एकमात्र ऐसी सीट रही जो भाजपा के लिए सबसे सरल थी। यहां से मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर मैदान में थे। प्रद्युम्न के बारे में एक बात वायरल है कि वह जनता से सीधा जुड़ाव रखते है या फिर यूं कहे कि जनता के मंत्री को जनता का बंपर आर्शीवाद मिला। हालांकि उनके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने भी प्रचार किया था। परंतु प्रद्युम्न खुद ऐसी शख्सियत है कि वह अकेले ही आसानी से यह सीट निकाल लेते, क्योंकि उन्होंने खुद लोहा लेकर भाजपा के…

Review Overview

User Rating: 4.8 ( 1 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

मेलाः बड़े-बड़े राजनेताओं को धराशायी किया भूपेन्द्र जैन ने?

ग्वालियर व्यापार मेला को लेकर कोरोनाकाल के चलते कुहासे के बादल छाये ...