Home / राष्ट्रीय / अब सबकुछ ‘हरि’ भरोसे

अब सबकुछ ‘हरि’ भरोसे

नई दिल्ली। राज्यसभा के उपसभापति पद पर एनडीए के हरिवंश नारायण सिंह चुन लिए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी। मोदी ने मजाकिया लहजे में कहा- अब सबकुछ हरि के भरोसे है। पीएम ने हरिवंश की तारीफ करते हुए कहा कि, हरिवंश पूर्व पीएम चंद्रशेखर के साथ उस पद पर थे, जहां उन्हें प्रत्येक बात की जानकारी रहती थी। चंद्रेशेखर जी जब इस्तीफा देने वाले थे, उनको (हरिवंश ) को यह बात पहले से पता थी। वे खुद पत्रकारिता से जुड़े हुए थे। लेकिन खुद के अखबार को यह भनक भी नहीं लगने दिया कि पीएम चंद्रशेखर…

Review Overview

User Rating: 4.3 ( 2 votes)

नई दिल्ली। राज्यसभा के उपसभापति पद पर एनडीए के हरिवंश नारायण सिंह चुन लिए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी। मोदी ने मजाकिया लहजे में कहा- अब सबकुछ हरि के भरोसे है।
पीएम ने हरिवंश की तारीफ करते हुए कहा कि, हरिवंश पूर्व पीएम चंद्रशेखर के साथ उस पद पर थे, जहां उन्हें प्रत्येक बात की जानकारी रहती थी। चंद्रेशेखर जी जब इस्तीफा देने वाले थे, उनको (हरिवंश ) को यह बात पहले से पता थी। वे खुद पत्रकारिता से जुड़े हुए थे। लेकिन खुद के अखबार को यह भनक भी नहीं लगने दिया कि पीएम चंद्रशेखर अपने पद से इस्तीफा देने वाले हैं। उन्होंने अपने पद की गरिमा को बरकरार रखा और सीक्रेट को मेंटेन किया।
राज्यसभा के उपसभापति चुनाव में एनडीए को मिली जीत पर कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बयान दिया है। उनका कहना है कि, कभी हम विजतेा बनते हैं, कभी हमें पराजय को स्वीकारना पड़ता है। विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने अपने संबोधन में कहा- हरिवंश जी पहले एनडीए के प्रत्याशी थे, लेकिन चुनाव जीतने और उपसभापति बनने के बाद यह पूरे सदन के हो गए हैं किसी एक पार्टी के नहीं। वह अपना काम अच्छे से करें, हमारी शुभकामनाएं उनके साथ हैं।

नई दिल्ली। राज्यसभा के उपसभापति पद पर एनडीए के हरिवंश नारायण सिंह चुन लिए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी। मोदी ने मजाकिया लहजे में कहा- अब सबकुछ हरि के भरोसे है। पीएम ने हरिवंश की तारीफ करते हुए कहा कि, हरिवंश पूर्व पीएम चंद्रशेखर के साथ उस पद पर थे, जहां उन्हें प्रत्येक बात की जानकारी रहती थी। चंद्रेशेखर जी जब इस्तीफा देने वाले थे, उनको (हरिवंश ) को यह बात पहले से पता थी। वे खुद पत्रकारिता से जुड़े हुए थे। लेकिन खुद के अखबार को यह भनक भी नहीं लगने दिया कि पीएम चंद्रशेखर…

Review Overview

User Rating: 4.3 ( 2 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

कोरोना बनाम सत्तू

सियासत और बीमारी पर लिख-लिख कर अब पस्त हो चुका हूँ ,इसलिए ...