Home / राजनीतिक / अमित शाह को किराए पर मकान नहीं मिला

अमित शाह को किराए पर मकान नहीं मिला

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भोपाल में अपने प्राइवेट केंप के लिए किराए के मकान की तलाश कर रहे थे परंतु उन्हे किराए पर कोई मकान नहीं मिला। अंतत: सरकार की तरफ से एक सरकारी आवास आवंटित कराना पड़ा। उन्हे राजधानी के 74 बंगला स्थित बी-12 नंबर बंगला आवंटित किया गया है। पहले यह भाजपा के वरिष्ठ नेता मेघराज जैन के नाम से आवंटित था। अब इस बंगले में मरम्मत का काम चल रहा है। इसे दुरुस्त करके अमित शाह की टीम को सौंप दिया जाएगा। प्राइवेट…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

अमित शाह को किराए पर मकान नहीं मिला

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भोपाल में अपने प्राइवेट केंप के लिए किराए के मकान की तलाश कर रहे थे परंतु उन्हे किराए पर कोई मकान नहीं मिला। अंतत: सरकार की तरफ से एक सरकारी आवास आवंटित कराना पड़ा। उन्हे राजधानी के 74 बंगला स्थित बी-12 नंबर बंगला आवंटित किया गया है। पहले यह भाजपा के वरिष्ठ नेता मेघराज जैन के नाम से आवंटित था। अब इस बंगले में मरम्मत का काम चल रहा है। इसे दुरुस्त करके अमित शाह की टीम को सौंप दिया जाएगा।

प्राइवेट आवास क्यों चाहिए था
इस संदर्भ में पहले खबर आई थी कि अमित शाह को एक ऐसे आवास की जरूरत है जहां प्राइवेसी बनी रहे। अमित शाह अपनी टीम को सरकारी माहौल देना नहीं चाहते थे। वो ऐसा कोई आवास नहीं चाहते थे जहां भाजपा या राजनीति से जुड़े लोगों का आना जाना बना रहे या फिर मीडिया की चहलकदमी होती रहे। इसीलिए श्यामला हिल्स, ईदगाह हिल्स, होशंगाबाद रोड और चूना भट्टी जैसे इलाकों में प्राइवेट बंगले की तलाश की जा रही थी।

क्या होगा अमित शाह की चुनावी सेल में
4 राज्यों के चुनावों पर सीधे नजर रखी जाएगी।
अमित शाह की अपनी टीम काम करेगी।
पार्टी नेताओं का दखल नहीं होगा।
पूरे प्रदेश का डाटा कलेक्शन किया जाएगा।
विवादों पर सीधी नजर रखी जाएगी।
दावेदारों की फाइलें तैयार की जाएंगी।
आईटी के ऐसे सभी टूल्स का उपयोग किया जाएगा जो चुनाव और प्रबंधन के लिए जरूरी हैं।
गोपनीय मीटिंग और फैसले लिए जाएंगे।
पूरी पार्टी पर सीधा नियंत्रण स्थापित किया जाएगा।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भोपाल में अपने प्राइवेट केंप के लिए किराए के मकान की तलाश कर रहे थे परंतु उन्हे किराए पर कोई मकान नहीं मिला। अंतत: सरकार की तरफ से एक सरकारी आवास आवंटित कराना पड़ा। उन्हे राजधानी के 74 बंगला स्थित बी-12 नंबर बंगला आवंटित किया गया है। पहले यह भाजपा के वरिष्ठ नेता मेघराज जैन के नाम से आवंटित था। अब इस बंगले में मरम्मत का काम चल रहा है। इसे दुरुस्त करके अमित शाह की टीम को सौंप दिया जाएगा। प्राइवेट…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

कमलनाथ सरकार को घेरने सड़कों पर उतरेगा युवा मोर्चा

भोपाल। भारतीय जनता युवा मोर्चा मध्यप्रदेश कि आगामी आंदोलनात्मक कार्यक्रमों को लेकर ...