Home / अंतरराष्ट्रीय

अंतरराष्ट्रीय

फेसबुक के बिना भी है दुनिया

(राकेश अचल) दुनिया की सबसे ज्यादा लोकप्रिय सोशल मीडिया नेटवर्किंग ‘फेसबुक’ के बिना भी एक दुनिया है, जहां थोड़ी सी कोशिश के बाद आराम से जिया जा सकता है। फेसबुक पिछले डेढ़ दशक से मेरे जीवन का अभिन्न हिस्सा थी, ...

Read More »

अजब-गजब त्यौहार: हेलोवीन

(राकेश अचल) दुनिया के हर देश की अपनी -अपनी लोक मान्यताएं और विश्वास होते हैं। इनमें एक है अपने पूर्वजों के प्रति स्नेह,समर्पण और उनका स्मरण। अमेरिका , कनाडा, जापान, ब्रिटेन और मैक्सिको सहित दुनिया के तमाम देशों में पूर्वजों ...

Read More »

खपरैल: भारत से अमेरिका तक

(राकेश अचल) पाठकों के जायके में तब्दीली लेखक की जिम्मेदारी है, इसीलिए आज न सियासत पर बात होगी न नाकामियों पर।आज बात होगी मिट्टी से बनी उस खपरैल पर जो भारत के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों से लेकर महाबली अमेरिका तक ...

Read More »

सोने की लंका दहन के पीछे कौन ?

( राकेश अचल) यकीन मानिये आज लिखने का कोई मन नहीं था .किन्तु कीर्तिमान बनाये रखने की लिप्सा लिखवा रही है. सोने की चिड़िया भारत अपने पड़ौस में सोने की लंका को धूं-धूं जलता देख आतंकित भी है और आशंकित ...

Read More »

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की हत्या, हमलावर ने पीछे से दो गोलियां दागीं; भारत में कल राष्ट्रीय शोक

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का शुक्रवार को निधन हो गया। आबे पर आज सुबह ही हमला हुआ था। यह हमला उस वक्त हुआ जब नारा शहर में शिंजो आबे भाषण दे रहे थे। हमलावर ने पीछे से उन ...

Read More »

यूक्रेन पर रूस के हमले के बीच भारतीय छात्र की मौत

रूस-यूक्रेन के बीच छिड़े युद्ध में एक भारतीय छात्र की मौत हो गई है। विदेश मंत्रालय की ओर से इसकी पुष्टि की गई है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि खारकीव में रूसी सेना की ओर से की गई ...

Read More »

यूक्रेन में रूस के हमले से कभी न भूलने वाली तबाही, युद्ध के भयावह मंजर

यूक्रेन और रूस के युद्ध की विभीषिका सामने आने लगी है. यूक्रेन के अलग-अलग हिस्सों में की गई सैन्य कार्रवाई के बाद कई इमारतें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई हैं. यूक्रेन में वॉर की वीडियो में देखा जा सकता है कि ...

Read More »

सुंदरता और आतंकवाद की रिश्ता

(राकेश अचल) ब्रिटेन की सुंदरी लीन क्लाइव अमेरिका नहीं जा सकती ,क्योंकि वो दमिश्क [ सीरिया] में जन्मी हैं अमेरिका सीरिया को आतंकवाद की धरती मानता है .अमेरिका की अपनी मान्यताएं हैं और उनका सम्मान किया जाना चाहिए. अपनी सार्वभौमिकता ...

Read More »

वीक ऐड फिलासफी: किम जोंग बनाम हंसना मना है 

ऊपर वाले का शुक्रिया कि उसने हमें बख्श दिया .हमें उत्तर कोरिया की तरह किम जोंग नहीं दिया,हमें मोदी जी दिए .किम जोंग दिया होता तो हम भी उत्तर कोरिया की जनता की तरह दस दिन तक हंसने से महरूम ...

Read More »

आवारगी की एक दुनिया और भी

(राकेश अचल) विश्वगुरु बनने का दावा करने वाले भारत में दुनिया के तमाम पिछड़े देशों की तरह आवारगी की एक दुनिया और भी है जो एक बड़ी समस्या भी है और चुनौती भी .ये दुनिया है अनाथ कहिये या आवारा ...

Read More »