Home / देखी सुनी / वाह रे शशि! केवल 200 रूपये के लिए अपना ईमान बेच रहे हों

वाह रे शशि! केवल 200 रूपये के लिए अपना ईमान बेच रहे हों

गत रोज निगम के मदाखलत अधिकारी शशिकांत शुक्ला अपने कारनामों के लिए फिर सुर्खियों में आ गये। अबकी बाहर साहब पर बुजुर्ग फुटपाथ दुकानदार अवैध वसूली और रिश्वत नहीं देने पर अपने गुर्गे द्वारा परेशान करने का आरोप लगाया है। यह सब मामले का पटाक्षेप तब हुआ जब केबिनेट मंत्री बाल भवन से अपने वाहन में बैठकर निकल रहे थे। तभी एक बुजुर्ग उनके वाहन के सामने लेट गया, जिसके बाद मंत्रीजी ने उसे उठाकर उसकी बात सुनीं। बुजुर्ग फुटपाथ दुकानदार ने बताया कि वह बाड़े पर दुकान लगाता है। इसके एवज में मदाखलत अधिकारी उससे 200 रूपये की अवैध…

Review Overview

User Rating: 3.3 ( 1 votes)


गत रोज निगम के मदाखलत अधिकारी शशिकांत शुक्ला अपने कारनामों के लिए फिर सुर्खियों में आ गये। अबकी बाहर साहब पर बुजुर्ग फुटपाथ दुकानदार अवैध वसूली और रिश्वत नहीं देने पर अपने गुर्गे द्वारा परेशान करने का आरोप लगाया है।
यह सब मामले का पटाक्षेप तब हुआ जब केबिनेट मंत्री बाल भवन से अपने वाहन में बैठकर निकल रहे थे। तभी एक बुजुर्ग उनके वाहन के सामने लेट गया, जिसके बाद मंत्रीजी ने उसे उठाकर उसकी बात सुनीं। बुजुर्ग फुटपाथ दुकानदार ने बताया कि वह बाड़े पर दुकान लगाता है। इसके एवज में मदाखलत अधिकारी उससे 200 रूपये की अवैध वसूली रिश्वत के रूप में लेते है और नहीं देने पर उसका सामान जप्त कर परेशान करते है। जिससे मजबूर होकर उसे रिश्वत देना पड़ती है इससे वह परेशान हो जाता है। निगम अधिकारी कोई सुनवाई करने को तैयार नहीं है। अब आप ही कुछ करिये और हमे ऐसे दुर्दान्त अधिकारी से बचायें….
वाह रे शशि! महाराज बाड़े पर फुटपाथ नही लगने देना तो वो भी मत लगने दों। अगर कोई गलत करे तो समान भी जब्त होना चाहिए… कोई समस्या नही है…. लेकिन कोई गरीब व्यक्ति तुम्हारे जेब मे रुपये नही ठूस पा रहा तो उसके साथ ऐसा अन्याय… वाह नगरनिगम के अधिकारी शशिकांत शुक्ला आपको शर्म आनी चाहिए…. केवल 200 रूपये के लिए जगह जगह अपना ईमान बेच रहे हो क्या?

गत रोज निगम के मदाखलत अधिकारी शशिकांत शुक्ला अपने कारनामों के लिए फिर सुर्खियों में आ गये। अबकी बाहर साहब पर बुजुर्ग फुटपाथ दुकानदार अवैध वसूली और रिश्वत नहीं देने पर अपने गुर्गे द्वारा परेशान करने का आरोप लगाया है। यह सब मामले का पटाक्षेप तब हुआ जब केबिनेट मंत्री बाल भवन से अपने वाहन में बैठकर निकल रहे थे। तभी एक बुजुर्ग उनके वाहन के सामने लेट गया, जिसके बाद मंत्रीजी ने उसे उठाकर उसकी बात सुनीं। बुजुर्ग फुटपाथ दुकानदार ने बताया कि वह बाड़े पर दुकान लगाता है। इसके एवज में मदाखलत अधिकारी उससे 200 रूपये की अवैध…

Review Overview

User Rating: 3.3 ( 1 votes)

About Dheeraj Bansal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने अब महिला सफाईकर्मी के छुए पैर

प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह रविवार को सफाई ...